नाम : अदम गौंडवी
जन्म : 22 अक्टूबर 1947; गोंडा

पुरस्कार एवं सम्मान
दुष्यंत कुमार पुरस्कार (मध्य प्रदेश सरकार) 1998

प्रकाशन
धरती की सतह पर
समय से मुठभेड़

निधन : 18 दिसंबर 2011; लखनऊ


ग़ज़ल को जब भी सत्ता की आँख में आँख डालकर कुछ कहने की ज़रूरत होगी तो अदम गौंडवी के अशआर सन्दर्भ बन जाएंगे. जुम्मन के घर की टूटी रकाबी से लेकर घीसू के पसीने की गंध तक हर वह तत्व अदम साहब के सुख़न का हिस्सा है जिसे इससे पहले ग़ज़ल के लिए अछूत माना जाता था. ग़ज़ल ने ज़ुल्फ़ों के पेचोख़म से निकल कर दराती और फावड़े तक का सफर अदम साहब की रहबरी में ही तय किया है.