रचनाएँ

Category: गीतिका ‘वेदिका’

जीते रहो!!!


चले गए हा! जीव से प्रान


पिया अश्रु पूर दिए रस्ते