रचनाएँ

Category: पदम प्रतीक

दोस्तों की मेह्रबानी हो गई


आप आँखों में जब उतरते हैं


यूँ तो यारो थकान भारी है