रचनाएँ

Category: विवेक मिश्र

वेदना


वह चाहती है


मेरी कविताएँ


आग तो आग है


ख़ूबसूरती गुलाब है


रिमोट


रेत के टीले


दु:स्वप्न


सिलवटें


पारिजात


जूता


बीड़ी जलइले


आम बाग़ में


वही एक शाम


बर्गर


न आरोह न अवरोह


एक पत्थर


इच्छा


क़ब्रगाह


धरती की गुहार