रचनाएँ

दुर्भाव सभी मन से निकल जाएंगे

धनसिंह खोबा ‘सुधाकर’

दुर्भाव सभी मन से निकल जाएंगे
जीवन में सभी व्यक्ति तुम्हें पाएंगे
तुम प्यार की नज़रों से सभी को देखो
दुश्मन भी तुम्हें दोस्त नज़र आएंगे

Leave a Reply