कवि-परिचय

ANURAG SHUKLA ‘AGAM’ अनुराग शुक्ला ‘अगम’

anurag-shukla-agam1

10 दिसम्बर सन् 1980 को दिल्ली में जन्मे अनुराग शुक्ला ‘अगम’ की कविताएँ हिन्दी काव्य मंच के भविष्य की एक आशावान किरण हैं। अनुराग शृंगार भी लिखते हैं और ओज भी। इस वैविध्य में जहाँ कहीं उनके भीतर घुट रहे इन दो रसों का संगम होता है, वहाँ अनुराग कुछ ऐसा लिख जाते हैं कि सुनने वाले मंत्रमुग्ध हो जाते हैं। बहुत कम समय में मंच पर दस्तक देते हुए अपनी पहचान क़ायम करने वाले इस रचनाकार की रचनाएँ दो रसों का संगम कही जा सकती हैं।

अनुराग शुक्ला ‘अगम’ की रचनाएँ पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply