कवि-परिचय

RAMESH RAMAN रमेश ‘रमन’

ramesh-raman

5 जनवरी सन् 1949 को उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जनपद में जन्मे रमेश चन्द्र शर्मा ‘रमन’ ने सन् 1970 में स्नातक परीक्षा उत्तीर्ण की और उत्तर प्रदेश के सिंचाई विभाग से वैयक्तिक सहायक के पद से सेवानिवृत्त हुए। संगीत तथा काव्य का अद्भुत संगम आपके रचनाकर्म को विशिष्ट बनाता है। आपके गीतों की धुन गंगा की निर्मल धारा की कलकल के समान है, जिसका अपना कोई विधान न होते हुए भी एक शाश्वत विधान है। गंगा के प्रति लगाव के चलते आप हरिद्वार में ही स्थापित हुए तथा भागीरथी के तट पर सुकून भरा आशियाना बनाकर रहने लगे। बृजक्षेत्र का भाषिक लालित्य आपके गीतों में सहज ही उतर आता है। सन् 1994 में आपके गीतों की ऑडियो कैसेट ‘चाहे जब आ जाना’ का लोकार्पण पद्मश्री गोपालदास नीरज के हाथों से हुआ।
माँ सरस्वती ने आपको स्वर, सुर और शब्द तीनों वरदान दिए हैं।

संपर्क के लिये यहाँ क्लिक करें

रमेश ‘रमन’ की रचनाएँ पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply