कवि-परिचय

SUMAN LATA सुमन लता

suman-lata-4

2 फरवरी सन् 1991 को दिल्ली में जन्मी सुमन लता अभी अपना विद्यार्थी जीवन जी रही हैं। सुमन देश की राजधानी के उस क्षेत्र में पली-बढ़ी हैं जहाँ अभी भी भारत का ग्रामीन परिवेश श्वास लेता है। आप शिक्षण से जुड़ी हैं तथा एक शिक्षिका के रूप में जीवन जीने की योजना बना रही हैं। आपके व्यक्तित्व की सहजता आपकी रचनाओं में स्पष्ट प्रतिबिंबित होती है। व्याकरण और शिल्प के दाँव-पेंच से दूर निपट भावाभिव्यक्ति आपके लेखन को विशेष बनाती है।

सुमन लता की रचनाएँ पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

One Response to “SUMAN LATA सुमन लता”

  1. 1
    madhav Says:

    nice

Leave a Reply