सत्य सनातन है कज़ा आएगी

सत्य सनातन है कज़ा आएगी

धनसिंह खोबा ‘सुधाकर’

वह वक्त क़ी ही ताँत से जीवन धुनता
साँसों से मनुज अपना कफ़न भी बुनता
यह सत्य सनातन है कज़ा आएगी
फिर भी तो न वह सत्य के पथ को चुनता

Leave a Reply