कवि-परिचय

राजेश जैन ‘चेतन’

rajeshjainchetan

8 अगस्त 1966 को हरियाणा के भिवानी ज़िले में जन्मे राजेश जैन ‘चेतन’ वर्तमान में मंच पर सर्वाधिक सक्रिय कवियों में से एक हैं। वाणिज्य विषय से स्नातकोत्तर तक शिक्षा ग्रहण करते हुए भी कविता और साहित्य आपकी अभिरुचियों में सदैव सम्मिलित रहा है। दिल्ली के लालक़िले से लेकर ब्रिटेन, अमरीका और तमाम मुल्क़ों में अपनी कविता के माध्यम से भारतीय संस्कृति और भारतीयता की अलख जगाने वाले राजेश चेतन की रचनाओं का प्रमुख आधार भारतीयता का वह भाव है जिसमें इस देश की महती परंपराओं के साथ-साथ शक्ति बोध और सौंदर्य बोध घुलता है। दर्जनों पुरस्कारों और सम्मानों से सम्मानित यह रचनाकार पहली बार सन् 1989 में हरियाणा के हाँसी नामक स्थान पर प्रकाश में आया। आत्मविश्वास और ऊर्जा से भरा आपका मंच संचालन किसी भी कवि सम्मेलन को जीवंत कर देता है। इस समय आप नई पीढ़ी के रचनाकारों को मंच से जोड़ने के लिये निरंतर प्रयासरत हैं। आपके के दो काव्य संग्रह, 2 काव्य संकलन, 2 ऑडियो सीडी और एक वीडियो सीडी उपलब्ध हैं। आपके नाम से प्रतिवर्ष एक काव्य सम्मान भी प्रदान किया जाता है।

राजेश जैन ‘चेतन’ की रचनाएँ पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply